न्यूजीलैंड के खिलाफ़ सफलता हासिल करने उतरेगी भारतीय महिला टीम..!



(आम आवाज़ संवाददाता)

नई दिल्ली:: भारतीय महिला क्रिकेट टीम मैदान के बाहर के विवाद को पीछे छोड़कर यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की एक दिवसीय श्रृंखला की शुरूआत जीत के साथ करना चाहेगी। वेस्टइंडीज में विश्व टी20 के सेमीफाइनल में भारत की हार के बार बड़ा विवाद हो गया था जब एकदिवसीय कप्तान मिताली राज और तत्कालीन कोच रमेश पोवार के मतभेद सार्वजनिक रूप से सामने आ गए। मिताली ने इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में जगह नहीं मिलने पर पोवार पर भेदभाव के आरोप लगाए थे। उन्होंने प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना इडुल्जी पर भी उनका करियर खत्म करने का प्रयास करने का आरोप लगाया था क्योंकि इस पूर्व कप्तान ने उन्हें बाहर रखने का समर्थन किया था।


इस विवाद के बाद डब्ल्यूवी रमन ने पोवार की जगह ली और वह पहली बार महिला टीम को कोचिंग देंगे। मिताली का टी20 कप्तान और स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर के साथ भी विवाद हुआ लेकिन श्रृंखला की पूर्व संध्या पर उन्होंने कहा कि उन्होंने विवाद को पीछे छोड़ दिया है और उनका ध्यान अपने काम पर है। भारतीय टीम इस श्रृंखला के जरिए आईसीसी चैंपियनशिप तालिका में अपने पांचवें स्थान में सुधार करना चाहेगी। यह श्रृंखला आईसीसी की महिला चैंपियनशिप का हिस्सा है जिससे 2021 विश्व कप के क्वालीफायर तय होंगे। 2014-2016 की पिछली महिला चैंपियनशिप में न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला 1-2 से हार गया था। भारत के पास हालांकि उम्दा बल्लेबाज हैं। सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना पहले ही चैंपियनशिप में 488 रन बना चुकी हैं।


चैंपियनशिप तालिका में न्यूजीलैंड नौ मैचों में 12 अंक के साथ दूसरे स्थान पर चल रहा है। भारत आठ अंक के साथ पांचवें स्थान पर है और बेहतर नेट रन रेट के कारण पाकिस्तान से आगे है। गत चैंपियन आस्ट्रेलिया नौ मैचों में 16 अंक के साथ शीर्ष पर है। न्यूजीलैंड की टीम घरेलू हालात में भारत को हराकर 2021 महिला विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करने का प्रयास करेगी। न्यूजीलैंड में होने वाले विश्व कप के लिए मेजबान के अलावा शीर्ष चार टीमों को सीधे प्रवेश मिलेगा। न्यूजीलैंड की कप्तान एमी सेटरवेट इस श्रृंखला की अहमित और विरोधी टीम की क्षमता को जानती हैं लेकिन घरेलू हालात का फायदा उठाने की कोशिश करेंगी। न्यूजीलैंड की टीम विकेटकीपर बल्लेबाज केटी मार्टिन के बिना उतरेगी जिनकी काम को लेकर अन्य प्रतिबद्धताएं हैं। इसके बावजूद मेजबान टीम के पास पूर्व कप्तान सूजी बेट्स और सोफी डेवाइन जैसी स्टार बल्लेबाज हैं। सोफी तीन शतक की मदद से 592 रन बनाकर चैंपियनशिप तालिका में शीर्ष पर चल रही हैं। स्पिन गेंदबाज लेघ कास्परेक पर भी सभी की नजरें रहेंगी जो चैंपियनशिप में अब तक 19 विकेट चटका चुकी हैं। न्यूजीलैंड की टीम अब तक इंग्लैंड, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली है जबकि भारत ने आस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका का सामना किया है।

मिताली राज (कप्तान), तान्या भाटिया, एकता बिष्ट, राजेश्वरी गायकवाड़, झूलन गोस्वामी, डायलन हेमलता, मानसी जोशी, हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, मोना मेशराम, शिखा पांडे, पूनम राउत, जेमिमा रोड्रिगेज, दीप्ति शर्मा और पूनम यादव। न्यूजीलैंड: एमी सेटरवेट, सूजी बेट्स, बर्नाडिन बेजिडेनहोट, सोफी डेवाइन, लारेन डाउन, मैडी ग्रीन, होली हडलटन, लेघ कास्परेक, एमेलिया केर, केटी पर्किन्स, एना पेटरसन, हना रोव और लिया ताहुहु। समय: मैच भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े छह बजे शुरू होगा।



Share link of aam awaz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *